Google AdSense क्या है और इसका Use कैसे करना चाहिये (NewBie Only)

नमस्कार मित्रो, स्वागत है आपका Google Adsense से जुड़े इस टॉपिक पर| दोस्तों आज के इस टॉपिक में हम बात करेंगे कि Google AdSense Kya hai और इसका use कैसे किया जाना चाहिये जिससे कि हम भी इससे Online पैसे कमा सके | दोस्तों आप भी अच्छी तरह से जानते है कि ऑनलाइन पैसे कमाने के लिये Blogging एक बहुत अच्छा टॉपिक है| आप Google AdSense में High Cpc Keywords का use करके अच्छी इनकम कर सकते है|google adsense kya hai

तो दोस्तों आप मेरी ये पोस्ट पढ़ रहे है तो निश्चित ही आप भी adsense का use करते होंगे| आज हम इसी टॉपिक पर ही बात करेंगे कि आप अगर adsense का लम्बे समय तक use करना चाहते है तो इसके लिये आपको क्या करना चाहिये|

मैं ये बात क्यों कह रहा हूँ कि आपको adsense का use लम्बे समय तक करना है तो आपको क्या करना चाहिये ?

मेरे ये बात कहने का कारण यही है कि बहुत से user adsense का miss use करते है जिससे कुछ समय में ही उनका adsense account desable कर दिया जाता है| लेकिन मेरा यही मानना है कि इनकम करनी है तो आप कभी भी कोई shourtcut रास्ते पर ना जाए हमेशा सीधे चले तभी सफल हो पायेंगे|

आप भी जानते है कि AdSense Google का एक प्रोडक्ट है और आप अच्छी तरह से जानते है कि google को धोखा देना नामुमकिन ही है तो फिर आप क्यों जानबूझकर adsense के साथ धोखा करते है किसी ना किसी दिन तो आप पकडे ही जाओगे| लेकिन सब user एक जैसे नहीं होते है यहाँ ये पोस्ट पढने वाले कुछ ऐसे भी लोग है जिनका adsense account अभी अभी approve हुआ है इसलिए वो adsense के बारे में शायद बहुत कम जानते है तो आज मैं आपको बताऊंगा कि आपको adsense का use करने के लिये क्या क्या करना चाहिये? लेकिन सबसे पहले आपको मैं Shourtcut में बता दू कि google adsense kya hai और ये काम कैसे करता है?

Google AdSense Kya Hai और ये काम कैसे करता है?

दोस्तों अगर कम शब्दों में बात की जाए तो AdSense Google का एक प्रोडक्ट है जिसका use करके हम अपनी वेबसाइट या ब्लॉग पर किसी भी कंपनी के ads दिखा सकते है और हमारे ब्लॉग पर किस तरह के ads आयेंगे ये खुद google ही deside करता है लेकिन अगर आप अपनी पोस्ट में keyword का use करेंगे तो संभव है कि आपको उस keywords से related ही ads अपनी वेबसाइट में देखने को मिले|

AdSense में दो तरह से लोग काम करते है और उन दोनों के बीच में होता है google. जो लोग अपनी कंपनी या अपने प्रोडक्ट के बारे में ads देता है उन्हें Advertiser कहा जाता है और जो ads अपने ब्लॉग पर दिखाता है उन्हें Publisher कहा जाता है| अब इन दोनों के बीच में जो डील करता है वो google है|

अब Advertiser और publisher के बीच पैसे का लेन देन करने का जो काम करता है उसे adsense कहते है| तो इस तरह से adsense का use करके हम ऑनलाइन पैसे कमाते है| आशा करता हूँ कि अब आप अच्छी तरह से समझ गए होंगे कि Adsense kya hai और ये काम कैसे करता है| तो आइये अब जानते है कि Adsense का use कैसे करना चाहिये?

Google AdSense का Use कैसे करना चाहिये ?

#1 Google AdSense के नियम कभी भी ना तोड़े

आपने जब अपना adsense account approve करवाया था तो आप भी अच्छी तरह से समझ गए होंगे कि किसी भी ब्लॉग पर adsense account approve करवाना कितना मुश्किल है? इसके पीछे सबसे बड़ा कारण है adsense के नियम| और मेरे ख्याल से होने भी चाहिये क्योंकि जो अपनी इनकम का 50 प्र्तिशत से भी ज्यादा हिस्सा अपने publisher को देता है तो वो नियमो से तो होना ही चाहिये| लेकिन बहुत से लोग इस बात को नहीं समझते है और अंत में इसका परिणाम यही निकला है कि उनका adsense account बंद हो जाता है|

तो सबसे पहले तो आपको भी ये समझना चाहिये कि आप अगर adsense account का लम्बे समय तक use करना चाहते है तो कभी भी ऐसा काम न करे जो adsense को पसंद ना आये नहीं तो आपको बिना किसी पूर्व सूचना के आपका adsense account बंद कर दिया जायेगा|

और एक बार adsense account बंद होने का मतलब है कि फिर उस डोमेन से कभी भी adsense account नहीं बनाया जा सकता अगर adsense ने उसे बेन कर दिया| अगर आपका भी अभी अभी adsense approve हुआ है तो सबसे पहले आपको adsense के नए नियम जरुर पढ़ लेने चाहिये उसके बाद adsense login करे और ऑनलाइन इनकम करने के बारे में सोचना चाहिये|

READ:)- हिंदी ब्लॉग पर CTR कैसे बढाये

READ:)- AdSense में Payment Setting कैसे करते है?

#2 अपने Ads पर क्लिक करना मतलब AdSense Account के बेन होने की गारंटी

आप नए user है तो इस बात को जितना जल्दी समझ लेंगे उतना ही अच्छा है, नहीं तो ऐसा ना हो कि आपका account जब बेन हो जाये तब आपको इस गलती का एहसास हो|

आपको एक बात बताता हूँ- सबसे ज्यादा अपने ads पर क्लिक वही करते है जो adsense से ज्यादा पैसे नहीं कमा पाते या फिर वो लोग जो ब्लॉग्गिंग में नए हो| तो आपको मैं बता दू कि आपका भी adsense account अगर अभी अभी approve हुआ है तो इसका मतलब ये नहीं है कि आप adsense के ads लगाते ही हजारो रुपये कमाने लग जाओगे इसलिए हमेशा धेर्य रखे और कोशिश ये करे कि आपके ब्लॉग पर अच्छा ट्रैफिक हो|

जब अच्छा ट्रैफिक आएगा तो आपको अपने ads पर क्लिक करने की जरुरत ही नहीं पड़ेगी| अगर आपके पास अच्छा ट्रैफिक नहीं है तो आपको मैं यही सलाह दूंगा कि आप adsense के ads अपने ब्लॉग पर लगाए ही ना| क्योंकि आप अगर ads लगायेंगे और जब आपकी बिलकुल भी earning नहीं होगी तभी आप अपने ads पर क्लिक करेंगे|

आपके खुद के ads पर क्लीक करके का सीधा मतलब यही है कि google को पता लग जाना है और आपका account desable होने से कोई नहीं बचा सकता तो इसलिए आपकी कमाई हो या ना हो आप कभी भी अपने ads पर क्लिक नहीं करेंगे|

#3 Google AdSense से ShortCut में पैसे कभी मत कमाये

google एक बहुत बड़ी कंपनी है और आप google पर क्या कुछ करते है ये उसको पता होता है और आप अगर अपनी google पर की गयी activity को चेक करना चाहते है तो आप यहाँ क्लिक करके कर सकते है| इसलिए आप google adsense को बेवकूफ बनाने के बारे में कभी मत सोचे|

आप अपने दिमाक से ये ख्याल हमेशा के लिये ही निकाल दे कि आप adsense को बेवकूफ बनाकर उससे पैसे कमा लेंगे| जैसे कि मैंने आपको बताया कि आपकी हर activity पर उसकी नजर रहती है तो आप सोच सकते है कि आप use कभी भी धोखा नहीं दे सकते|

अब कुछ ऐसे भी लोग यहाँ मिल जायेंगे जो ये ज्ञान देते है कि हम VPN का use करके आसानी से google को धोखा दे सकते है तो आपको बता दू कि VPN से भी आप उसे कभी धोखा नहीं दे सकते और ज़रा सोचिये कि जिस दिन आप पकडे गए उस दिन आपका कितना नुकसान होना है| VPN का use भी सबसे ज्यादा वही लोग करते है जो ब्लॉग्गिंग में नए है|

चलिए आपको एक Example देता हूँ कि VPN का use क्यों नहीं करना चाहिये ? मान लीजिये कि आपकी इनकम 50 हजार रुपये महीना है तो सबसे पहली बात तो ये कि जो लोग 50 हजार रुपये महीना adsense से कमाते है वो लोग VPN का use कभी नहीं करेंगे| अब सोचिये अगर कोई 50  हजार रुपये कमाने वाला है तो उसके adsense में हमेशा ही लगभग 40000 रुपये adsense में pending रहते है(ये एक अनुमान है,कम ज्यादा भी हो सकते है ) तो बताइए कौन अपना इतना नुकसान करेगा ?

इसलिए आप भी कभी भी ऐसी बातो के बारे में ना सोचे अगर आप चाहते है कि आप अपने ब्लॉग से अच्छी इनकम करेंगे और भविष्य में अपनी एक पहचान बनायेंगे तो इन shourtcut का use कभी ना करे|

Tip:) – Shourtcut से पैसे कमाने वाले रास्ते हमेशा ही आसान लगते है लेकिन वो अंत में हमें नुकसान ही पहुंचाते है| मेरे हिसाब से इनका use कभी नहीं करना चाहिये|

READ:)- AdSense approve क्यों नहीं होता और इसे ब्लॉग के लिये approve कैसे कराये

READ:)- ब्लॉग्गिंग के लिये कौन है बेस्ट – WordPress Or Blogger

#4 जिस वेबसाइट पर AdSense Verify है केवल उसी पर Ads लगाए

AdSense ने आपको जिस ब्लॉग पर ads लगाने की परमिशन दी है अगर आप उसके अलावा किसी और वेबसाइट पर ads लगायेंगे तो ये उसके नियमों के खिलाफ है| अगर आप ऐसा करते पकडे जाते है तो adsense को आपके account को बंद करने का अधिकार है| लेकिन जब इसका समाधान है तो मेरी नजर में आप ऐसी गलती कभी नहीं करेंगे|

अगर आपके पास एक से अधिक ब्लॉग है तो आप एक ही adsense का use करके अपने सभी ब्लॉग में adsense के ads लगा सकते है| बस इसके लिये आपको अपने adsense में सभी ब्लॉग को वेरीफाई करना होता है| आपके adsense account में my साईट में आपको ये option मिल जायेगा|

तो आप ऐसी गलती ना करे और जिन ब्लॉग पर adsense वेरीफाई है उस पर ही अपने ads लगाये और एक बात का विशेष ध्यान रखे कि आप अपने ad कोड कभी भी किसी से भी share ना करे| बहुत से लोग अपनी publisher आईडी facebook जैसी साईट पर share कर देते है जो कि बिलकुल भी सही नहीं होता है| एक से अधिक adsense होना भी adsense की policy के खिलाफ है लेकिन जब तक आप नजर में नहीं आते तब तक आप safe है|

READ:)- wordpress ब्लॉग में heading को Stylish कैसे बनायीं जाती है

#5 अच्छा ट्रैफिक हो तो ही आप AdSense का Use करे

आप adsense या किसी भी advertiser company से तभी पैसे कमा सकते है जब आपके पास अच्छा ट्रैफिक हो| बिना ट्रैफिक के आप अपने ads किसको दिखाएँगे और कौन क्लिक करेगा और जब तक क्लिक नहीं होंगे आप पैसे नहीं कमा सकते| तो आप सबसे पहला टारगेट यही रखे कि आपके पास बहुत सारा ट्रैफिक हो जिससे कि आपकी इनकम हो सके|

ब्लॉग बनाने का मतलब ही यही होता है कि आपके पास ट्रैफिक होना चाहिये और कम ट्रैफिक होने पर तो adsense भी वेरीफाई नहीं होता है और अगर हो भी जाता है तो बहुत जल्द disapprove हो जाता है|

दोस्तों अगर आपका adsense भी कम ट्रैफिक पर approve हो गया है तो अच्छी बात है लेकिन अब आपको adsense से पैसे कमाने से के बारे में सोचने की बजाए अपने ट्रैफिक पर ध्यान देना चाहिये|

अगर आप अपने ब्लॉग पर ट्रैफिक बढाने के बारे में जानकारी लेना चाहते है तो आप यहाँ क्लिक करके हमारी पोस्ट पढ़ सकते है|

READ:)- WordPress Blog में SEO Friendly Post कैसे लिखते है =पूरी जानकारी हिंदी में

READ:)- blogger अपनी monthly इनकम रिपोर्ट शेयर क्यों नहीं करते

#6 कॉपी किया हुआ Content AdSense को बिलकुल भी पसंद नहीं है

copy किया हुआ तो adsense को क्या किसी को भी पसंद नहीं है तो आप ऐसा रिस्क क्यों ले रहे है| देखिये! ब्लॉग्गिंग भी तभी की जा सकती है जब आप अपने टॉपिक के बारे में नॉलेज रखते हो और अगर आपको अपने टॉपिक के बारे में नॉलेज है तो फिर आप क्यों करेंगे?

मुझे लगता है कि आप copy नहीं करेंगे ! और अगर आप ऐसा करने की सोच रहे है तो बहुत गलत बात है| किसी की मेहनत से लिखी हुयी चीज को copy कर लेना सच में बहुत बुरी बात है|

और हाँ ! अगर आप सोच रहे है कि किसी का content copy करके आप पैसे कमा लेंगे तो आप बिलकुल गलत सोचते है| किसी का copy किया हुआ content अगर adsense के सीध में आ गया तो मुसीबत हो जायेगी| दूसरी बात ये कि अगर आप किसी का content copy करेंगे तो आप उससे आगे नहीं निकल सकते क्योंकि जिस चीज को आप copy कर रहे है वो तो already ही google पर है और rank भी आपसे अच्छी होगी तो आपको तो कोई फायदा नहीं होने वाला है|

किसी के content copy करके आप ज्यादा समय तक ब्लॉग्गिंग नहीं कर सकते| इसलिए आपका adsense account अगर approve है तो copy करने का ख्याल अपने दिमाक से निकाल दे|

आप अपने हिसाब से कैसे भी लिखे कोई फर्क नहीं पड़ेगा| हो सकता है आने वाले समय में आप इसके बारे में और अच्छी तरह से जान लेंगे लेकिन अगर copy किया हुआ content आपके विजिटर को ही दिख गया तो समझ लीजिये कि वो आपके ब्लॉग पर फिर कभी नहीं आने वाला और विजिटर ना आने का मतलब कि आप Unsuccessful हो जायेंगे |

#7  बार बार theme ना बदले

नए blogger होते है उनको theme को लेकर सबसे ज्यादा चिंता होती है और आप भी अगर नए है तो दावे के साथ कह सकता हूँ कि आपने भी कम से कम 5-6 बार theme change जरुर की होगी| मेरे साथ भी start में ऐसा हो चुका है इसलिए मैं ये कह रहा हूँ|

कोई बात नहीं हो जाता है जब हम नए होते है लेकिन अब आप ऐसा कभी ना करे ! अगर आपने सफलतापूर्वक adsense का अप्रूवल ले लिया है तो अब आप theme change करने की कभी ना सोचे|

जब हम adsense ads लगाते है तो उसके ad कोड theme में ही पेस्ट करते है या किसी plugin की सहायता से ads लगाते है और जब हम theme change कर देते है तो वो सारे कोड और ब्लॉग का डिजाइन डिलीट हो जाते है जिससे आपके adsense की इनकम कम हो जाती है|

बार बार theme बदलने का एक नुकसान ये भी है कि इससे आपके विजिटर भी confuse हो जाते है जिससे आपके ब्लॉग का ट्रैफिक का सबसे ज्यादा नुकसान होता है| मैं हमेशा यही कहता हूँ कि adsense में इनकम का नुकसान भले ही हो जाए लेकिन मेरे विजिटर का नुकसान कभी नहीं होना चाहिये क्योंकि अगर विजिटर रहेंगे तो बाक़ी सब अपने आप सही हो जायेगा|

#8 Earning कम होने पर चिंता ना करे

adsense से पैसे कमाने से पहले इस बात को अच्छी तरह से अपने दिमाक में बैठा ले कि आपकी adsense से इनकम तभी होगी जब advertiser google को पैसे देंगे और जब वो पैसे नहीं देंगे तो google भी हमें पैसे नहीं देगा| google अपने घर से आपको पैसे नहीं देने वाला है|

अगर आपकी इनकम कम हो रही है तो कभी भी चिंता ना करे और सब कुछ google पर ही छोड़ दे लेकिन एक बात का ध्यान रखे कि अगर आपकी इनकम अचानक से कम हो गई है तो अपना ट्रैफिक जरुर चेक कर ले| अगर आपका ट्रैफिक सही है तो फिर चिंता ना करे|

अगर publisher google को ज्यादा पैसे देंगे तो google हमें ज्यादा pay करेगा नहीं तो आपको भी कुछ मिलने वाला नहीं है|

READ:)- ज्यादातर लोग ब्लॉग्गिंग में असफल क्यों हो जाते है ? क्या कारण है जानिये

READ:)- अपने wordpress ब्लॉग में font change कैसे करते है

READ:)- क्या ब्लॉग से सच में पैसे कमाए जा सकते है? जानिए ब्लॉग्गिंग कितनी आसान है

#9 AdSense में Experiment जरुर करे

आपके adsense account में एक्सपेरिमेंट name से option है| मैं strongly recommanded करूँगा कि आप उसका use जरुर करे| adsense में एक्सपेरिमेंट करते रहने से इसका फायदा हमें अपनी इनकम में होता है|

जब कोई नया user होता है तो उसे नहीं पता होता कि मेरे ब्लॉग में सही ads लगाने की जगह क्या है और मैं कौनसे ads का use करू जिससे कि मेरी इनकम बढ़ जाए तो आपके इन सवालों का जवाब लेने के लिये आपको बार बार अपने ads प्लेसमेंट को बदल बदल कर देखना होता है|

अगर आप किसी और के लगाये ads को देखकर अपने ब्लॉग में ads लगाते है तो ये जरुरी नहीं है कि उसको जो result मिले वही result आपको भी मिले तो इसलिए जरुरी है कि आपको अपने ब्लॉग में और adsense account मे जरुरी बदलाव करते रहना चाहिये|

आपको क्या cpc मिलती है और आपका ctr क्या रहता है इसके बारे में आपसे अच्छा कोई नहीं जानता इसलिए दूसरो की देखा देखी करने बजाय खुद को experiment करके देखे जिससे कि आपको सही सही पता चल सके|

#10 आपका बैंक अकाउंट बार बार ना बदले

आपका address और बैंक account आपके लिये सबसे important में से एक है इसलिए आपको चाहिये कि आप अपने address और अपने बैंक में बार बार परिवर्तन ना करे|

सबसे अच्छा तो यही है कि अगर आपने एक बार अपने account number adsense में मैप कर दिए है तो आप उस account number का use किसी और adsense में ना करे|

अगर आप बार बार अपने account number change करते है तो भी हो सकता है कि adsense आपको invailid activity दे दे और आपका account बंद कर दे| मुझे नहीं लगता कि एक बार account number सही से set कर देने के बाद use बदलने की जरुरत कभी पड़ती है|

इसके अलावा आपका address adsense पहले ही वेरीफाई कर चुका है तो आपको अब उससे कोई लेना देना नहीं है और आपका क्या address है इससे ना तो adsense को कोई फर्क पड़ता है और ना ही आपको|

इसलिए आप बार बार ऐसी हरकते करके खुद को परेशान ना करे और केवल एक ही बैंक account का use करे|

READ:)- Google Keyword Planner क्या है और इसका use कैसे किया जाता है

READ:)- SupportMeIndia के founder जुमेदीन खान के बारे में जाने

#11 Ad Unit बदलते रहे

आप एक ad ऊनि को जीतनी जगह use करना चाहे कर सकते है कोई प्रॉब्लम नहीं है| इसलिए मेरे हिसाब से आपको एक ad यूनिट ही बनानी चाहिये और उसी को सभी जगह use कर लेनी चाहिये| लेकिन अगर आप एक लिंक ads के अलावा कोई और ads का use करना चाहते है तो आपको फिर से ad यूनिट बनानी होगी|

मैं सिर्फ 3 ad यूनिट का use करता हूँ इसलिए मेरे adsense account में ज्यादा ads यूनिट नहीं होती इसलिए मेरे लिये काम आसान हो जाता है और मुझे पता होता है कि ये ads यूनिट मैंने कितनी जगह use की है| लेकिन अगर आप blogger पर है तो आपको ads यूनिट बदलते रहना चाहिये|

अगर आप blogger पर है तो आप किसी plugin का use नहीं कर सकते इसलिए adsense के ads आपको अपनी theme में ही लगाने होते है| और अगर आप वो theme किसी और को देते है तो आपके ad यूनिट भी उसके साथ ही चले जाते है इसलिए उन ad यूनिट को desable करने के लिये आपको अपने adsense के ad यूनिट बंद कर देने चाहिये|

एक यूनिट को डिलीट करने के बाद आप फ़िर से ad यूनिट बनाये और अपने ब्लॉग पर लगाए|

#12 AdSense के साथ किसी और Ad Network का Use ना करे

adsense के अलावा भी बहुत से ad नेटवर्क है इनमे से कुछ trusted है और कुछ पेमेंट नहीं देते लेकिन adsense ऐसा कभी नहीं करता| इसलिए adsense ये कभी पसंद नहीं करता कि कोई उसके ad के साथ कोई और कंपनी के ad दिखाये| इसलिए आप कभी भी adsense के साथ किसी और नेटवर्क का use ना करे|

हाँ ये भी sure नहीं है कि किसी और ad नेटवर्क का use करने से आपका adsense account बंद होगा ही होगा लेकिन जहाँ तक मेरा सवाल मैं कभी भी किसी और नेटवर्क का use नहीं करता| इसका सबसे बड़ा कारण भी यही है कि जितने पैसे adsense देता है उतने और कोई नहीं देता|

तो आपको भी अगर ऑनलाइन पैसे कमाने है तो adsense एक ही काफी है और कभी किसी और ad नेटवर्क का use करने की जरुरत नहीं है| मेरे ख्याल से आप ऐसा कभी नहीं करना चाहेंगे|

तो दोस्तों, ये कुछ महत्वपूर्ण बातें थी जो adsense का use करने से पहले आपको पता होनी चाहिये| हम आशा करते है कि आपको मेरी आज की ये “adsense kya hai और इसका use कैसे करना चाहिये” पोस्ट पसंद आई होगी आप मेरी इस पोस्ट को अपने social media पर अपने दोस्तों से share करना ना भूले|

3 Comments

  1. vikku
  2. Vishwajeet

Give a Comment